Hindi

जालंधर का एक ही कॉलेज करवा रहा है बी.ऐ.बी.ऐड.

बी.ऐ.बी.ऐड.

जालंधर 15 जून (जसविंदर सिंह आजाद)- प्रेमचंद मारकंडा एस. ड्ठी. कॉलेज फॉर वीमेन, जालंधर के एजुकेशन विभाग की तरफ से ऑनलाइन काउंसलिंग पर एक वेबिनार का आयोयं करवाया गया। इस वेबिनार में जालंधर तथा आस पास के काफी सारे विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया । वेबिनार का शुभारभ विभाग के प्रभारी डॉ. सुरिंदर कौर ने किया। उन्होंने छात्राओं को इस 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड बी.ए. बी.ऐड कोर्स के बारे में बताते हुए कहा की अध्यापन एक महान व्यवसाय है । मनुष्य के व्यक्तित्व के विकास में माता पिता के साथ साथ अध्यापक का भी बड़ा योगदान होता है। इसलिए जो छात्राएं अध्यापक बनकर समाज और देश की सेवा करना चाहती हैं उनके लिए यह कोर्स लाभदायक है । यह कोर्स करके छात्राएं +ख् के बाद केवल 4 वर्ष में ही अध्यापक बनने का सपना पूरा कर सकती हैं। वेबिनार में एजुकेशन विभाग असिस्टेंट प्रोफेसर श्रीमती रमनजीत तलवाड़ एंव श्रीमती रजनी चुबर ने कोर्स के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देते हुए कहा की यह ड्यूल डिग्री प्रोग्राम है जिससे छात्राएं ब् वर्ष में बी.ऐ. और बी.ऐड दो डिग्रीयां प्राप्त कर सकती हैं। डिग्री प्राप्त करने के बाद वे किसी भी स्कूल में अध्यापक की नौकरी प्राप्त कर सकती हैं। सरकारी नौकरी प्राप्त करने के लिए भी सी.टी.इ.टी. और पी.एस.टी.इ.टी. जैसे योग्यता टेस्ट पास करने के दिशा निर्देश भी कॉलेज के अधियापको के द्वारा दिए जाते हैं। इसके इलावा छात्राओं को कॉलेज की तरफ से दिए जाने वाले वजीफे, जरूरतमंद एंव होशियार छात्राओं को फीस में छूट, आसान किश्तों में फीस देने की सहूलत, कोर्स की कुल सीटों, पाठ्यक्रम एंव विभागीय गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। कॉलेज में बी.ऐ.बी.ऐड कर रही छात्राओं ने अपने अनुभव साझा करते हुए बताया की हमारा अध्यापक बनने का सपना पूरा होता दिखाई दे रहा है। कोविड-19 जैसे महामारी के समय में एक साल बचाना बहुत एहम है। छात्राओं ने बताया की इस कॉलेज में योग्य ाधियापक भी हैं और कॉलेज का इंफ्रास्ट्रक्चर भी है। कॉलेज की लाइब्रेरी में पुस्तकों की भरमार है। ऑनलाइन पढ़ने के लिए बहुत अच्छी लैब भी है पूरा साल पाठ्यकर्म के साथ साथ अतिरिक्त गतिविधियां भी चलती रहती हैं। जिससे छात्राओं का सर्वपक्षीय विकास भी होता है। वेबिनार की सफलता के लिए प्राचार्य डॉ. किरण अरोड़ा ने विभाग के प्रोफेस्सोर्स को बधाई दी।